आईए मन की गति से उमड़त-घुमड़ते विचारों के दांव-पेंचों की इस नई दुनिया मे आपका स्वागत है-कृपया टिप्पणी करना ना भुलें-आपकी टिप्पणी से हमारा उत्साह बढता है

सोमवार, 15 अगस्त 2011

स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं


स्वतंत्रता दिवस  
की  
हार्दिक शुभकामनाएं 
स्वतन्त्र भारत का स्वच्छंद नागरिक
देखता है; दिखाता है,  दुनिया को अद्भुत नज़ारे 
लहरावे परचम एवरेस्ट शिखर पर 
लक्ष्य सर्वोपरि हो देश की रक्षा 
उतरे समर में रख पाहन जिगर पर
भय भूख भ्रष्टाचार की व्याधि से कौन उबारे 
   व्याधि मिटाने की घुट्टी लिए संग,
चल पड़े हैं माननीय वैद्य अन्ना हजारे 
उम्र के आठवें दशक को कर दर किनारे 
राष्ट्र के भावी निर्माता(आज की युवा पीढ़ी)
 माँ भारती तुमको पुकारे 
सत्य व ईमान की राह पे चल वतन को अब सँवारे
जय भारत....वन्दे मातरम् .
जय जोहार.

3 टिप्‍पणियां:

अशोक बजाज ने कहा…

जीवन यदुराही खैरागढ़ की कविता अच्छी लगी . आपको भी स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं .

संगीता स्वरुप ( गीत ) ने कहा…

स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनायें

ब्लॉ.ललित शर्मा ने कहा…

स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक बधाई