आईए मन की गति से उमड़त-घुमड़ते विचारों के दांव-पेंचों की इस नई दुनिया मे आपका स्वागत है-कृपया टिप्पणी करना ना भुलें-आपकी टिप्पणी से हमारा उत्साह बढता है

शुक्रवार, 15 अक्तूबर 2010

अब हो सकेगा आप लोगों से नित मेल मिलाप जरूर

समस्त ब्लॉग मित्रों को नमस्कार एवं नवरात्रि की बहुत बहुत शुभकामनाएं. माँ भगवती आप सभी की मनोकामना पूर्ण करे.
बदले अपना निवास, ब्लॉग से हो गए थे दूर 
क्या करें, अंतरजाल कट चुका था 
भारत संचार निगम लिमिटेड 
की असीम कृपा हुई, 
दूरभाष स्थानान्तरण आवेदन दाखिल करने के 
दो माह बाद लग पाया कनेक्शन,  हुजूर.
आशा ही नहीं विश्वास है, अब हो सकेगा आप लोगों से 
नित मेल मिलाप जरूर ........
जय जोहार.....................

6 टिप्‍पणियां:

निर्मला कपिला ने कहा…

धन्यवाद जी। स्वागत है वापिस आने पर। शुभकामनायें

KK Yadava ने कहा…

यह तो अच्छा हुआ....फिर से स्वागत.




________________
'शब्द-सृजन की ओर' पर आज निराला जी की पुण्यतिथि पर स्मरण.

arun c roy ने कहा…

स्वागत है वापिस आने पर। शुभकामनायें

'उदय' ने कहा…

... jay johaar ... jay maataa dee !

Udan Tashtari ने कहा…

नम्बर भेज दिजियेगा..

नवरात्रि की बहुत बहुत शुभकामनाएं

ललित शर्मा ने कहा…

जाल से कटे और फ़ंसे जंजाल में
स्वागत है लौट आए अंतरजाल में।

नौवमी के गाड़ा गाड़ा बधई