आईए मन की गति से उमड़त-घुमड़ते विचारों के दांव-पेंचों की इस नई दुनिया मे आपका स्वागत है-कृपया टिप्पणी करना ना भुलें-आपकी टिप्पणी से हमारा उत्साह बढता है

शनिवार, 31 दिसंबर 2011

नव वर्ष की हार्दिक शुभकामनाएं

नव  वर्ष की हार्दिक शुभकामनाएं
(१) 
नए साल की सुबह को बाकी रह गए कितने दिन.
प्रहर,  घड़ी, कला, विकला, क्षण क्षण क्षण को गिन.
 (२)
जश्न- जोश मदहोश करे, आओ झूमें नाचें गायें  
तजि बैर-भाव अरु दुर्गुण अपने, खुशियाँ बांटते जायें
 (३)
करनी ऐसी कर चलें होवे सारा जग खुशहाल 
सौगातों की पोटली, लिए द्वार खड़ा नया साल
(४) 
भ्रष्टाचार भय भूख से जन को मिलेगा कब छुटकारा
"केंसर" से घातक बन चुका जानत यह जग सारा
(५)
हो देर मगर अंधेर नहीं, जुट जाए सारी जनता 
"कोउ नृप होय हमै का हानि"  से काम नहीं है बनता 
(६)
नव-वर्ष की उषा-किरण,  कर दे सबको उर्जावान 
खुशियाँ हो घर- घर इस जग में,   बिनती है भगवान
आप सभी को चंद घंटों में आने वाले  नए साल की हार्दिक शुभकामनाएं  
जय जोहार........

3 टिप्‍पणियां:

संध्या शर्मा ने कहा…

नव-वर्ष की उषा-किरण, कर दे सबको उर्जावान
खुशियाँ हो घर- घर इस जग में, बिनती है भगवान

सुन्दर प्रस्‍तुति...
नववर्ष की अनंत शुभकामनायें...

मनोज कुमार ने कहा…

आपको और आपके परिवार को नए साल की हार्दिक शुभकामनाएं!

Jogendra Singh ने कहा…

▬● अच्छा लगा आपकी पोस्ट को देखकर... साथ ही यह ब्लॉग देखकर भी अच्छा लगा... काफी मेहनत है इसमें...
नव वर्ष की पूर्व संध्या पर आपके लिए सपरिवार शुभकामनायें...

मेरे ब्लॉग्स की तरफ भी आयें तो मुझे बेहद खुशी होगी...
[1] Gaane Anjaane | A Music Library (Bhoole Din, Bisri Yaaden..)
[2] Meri Lekhani, Mere Vichar..
.