आईए मन की गति से उमड़त-घुमड़ते विचारों के दांव-पेंचों की इस नई दुनिया मे आपका स्वागत है-कृपया टिप्पणी करना ना भुलें-आपकी टिप्पणी से हमारा उत्साह बढता है

शुक्रवार, 23 अप्रैल 2010

कंप्यूटरवा का मदर बोर्ड बदला

sका बताएं भैया ई कम्प्युटरवा बहुतै परेशान कर रखा है. ऊपर से ऑफिसवा का काम
तनि आज ही ठीक करवाए हैं कंप्यूटर
आप सभी मित्रों को मेरा
जय जय सियाराम
अब इसमें भी माता पिता के वास्ते बोर्ड होता है
ई हमका पता चला जब मेकेनिकवा कहने लगा
ईका मदर बोर्ड खराब हो गया है.  हम कहे
जावो बदल दो, सो बदला है आज ही.
अब करेंगे फिर से लिखना शब्द दुई चार
पहले कर लें आप सभी मित्रों को जय जोहार...............

3 टिप्‍पणियां:

ललित शर्मा ने कहा…

बने होगे बदल गे मदरबोर्डवा
अब कम्प्युटर होगे चकाचक।

बधई हो।

संजीव तिवारी .. Sanjeeva Tiwari ने कहा…

पानी ओंइच के सुवागत हे मदर बोरड के...


जय जोहार

जय भारत, जय छत्‍तीसगढ़

mridula pradhan ने कहा…

achchi lagi.