आईए मन की गति से उमड़त-घुमड़ते विचारों के दांव-पेंचों की इस नई दुनिया मे आपका स्वागत है-कृपया टिप्पणी करना ना भुलें-आपकी टिप्पणी से हमारा उत्साह बढता है

शनिवार, 3 अप्रैल 2010

छत्तीसगढ़ी बोली माँ हिंदी अउ अंग्रेजी के प्रयोग

                भाखा बोली जेला हिंदी मा भाषा अउ अंग्रेजी मा लेंग्वेज कथें के अपन अपन अलग महत्व हे. कैसे इन तीनो ला समेट के दैनिक जीवन मा बड़े बड़े पढ़े लिखे लोगन मन परयोग करथे ओखर उदाहरण देना चाहत हौं. मैं अपन काम मा एके जघा पदस्थ नई रहौं ट्रांसफर होवत रथे. जादा दुरिहा नई जाँव अप डाउन करे के जघा मा मोर साहेब मन भेजथें मोला. तव अउ डाउन कहूं रेल मा करे लगे त किसम किसम के गोठ. बात चलत हे आपस मा.........."कईसे जी कल हमन गोठियावत रेहेन त तैं कैसे फलां संग कान मा जाके काय कानफिडेनशियल टाक करे लगे रहे. हव गा बने पूछे बातेच ओइसने रहिसे. सबके बीच वार्तालाप मा गोठियाये के नई रहिसे. ले भाई ठीक हे. झन बता हमला. अउ टुमारो आवत हस के नहीं ड्यूटी मा? काबर नई आहूँ जी. निश्चित्ली आहूँ (होगे इहाँ अंग्रेजी के बढ़िया प्रयोग). फेर पूछत हे.... कैसे कमजोर दिखत हस जी? का करबे 3 4 दिन फीवर (बुखार) मा  परेशान रेहेंव ये दे दुए दिन होइसे उतरे. शरीर मा वीकनेस्ता (कमजोरी) आगे हे. ..... कोनो मा विशेषण लगाना हे त ली शब्द ला जोड़ दौ.  
             वइसे ये अंग्रेजी अउ हमर छत्तीसगढ़ी मा घलो बहुत समानता हे....... येदे जी फलाना चीज हा मोर लाइक नई ये. अउ ओही ला अंग्रेजी मा ....... आई डोंट लाइक इट.  कहूँ तय जर उर गे त कथन नहीं बर गे कहिके. उही ला जब अस्पताल मा जरे भुन्जाये केस आथे त कथें बर्न केस आये हे. अउ तो अउ कोनो गंभीर या कहना चाही कष्टप्रद चीज या डराए के बात होगे त कथन जीव पार दे रहिसे ददा. अउ अंग्रेजी मा शायद "जियोपरडाईज" शब्द के भी मतलब ओइसने कुछ आय. काय होगे हे आज महू ला.............. आनी बानी के गोठ सूझत हे.
जय जोहार जी.....................  





2 टिप्‍पणियां:

ललित शर्मा ने कहा…

बने जेंटलाईज हो्के पोस्टीआए हस गुप्ता जी
अड़हा मन के छंगलिस अइसने होथे।
जोहार ले
मोर गोड़ मा हेडेक होवत हे

बी एस पाबला ने कहा…

बने गुठियाये हो गुप्ता जी पोस्ट लिख के