आईए मन की गति से उमड़त-घुमड़ते विचारों के दांव-पेंचों की इस नई दुनिया मे आपका स्वागत है-कृपया टिप्पणी करना ना भुलें-आपकी टिप्पणी से हमारा उत्साह बढता है

सोमवार, 15 मार्च 2010

फर्जी टिपण्णी करने वालों सावधान!!!!!!

 फर्जी नाम से टिपण्णी कर ब्लॉग जगत को बदनाम करने वालों सावधान 
खुद में कूबत नई है तो दूसरों के नाम का सहारा लेते हो. असंसदीय भाषा का प्रयोग  किसी के पोस्ट में टिपण्णी में कर बदनाम करना चाहते हो. हम से बच के नहीं जा पाओगे. सात तालों के भीतर छिपे चोरों को भी हम खोज निकाल लेते हैं तो तुम्हे कैसे छोड़ सकते हैं. अभी हम सावधान किये देते हैं. बच के नहीं जा पाओगे.

6 टिप्‍पणियां:

Anil Pusadkar ने कहा…

गुप्ता जी बेनामी लोग न सुधरने वाली जात है जैसे कुत्ते की दुम्।

निशांत मिश्र - Nishant Mishra ने कहा…

maamla kya hai?
kuchh samajh men naheen aaya.

Udan Tashtari ने कहा…

सही चेतावनी दे दी.

ललित शर्मा ने कहा…

nice
bane bajaye dauji.
navratri ke badhai

Ratan Singh Shekhawat ने कहा…

सही चेतावनी दे दी !!

जी.के. अवधिया ने कहा…

जाने भी दीजिये गुप्ता जी, ये बेनामी तो विघ्नसंतोषी जीव होते हैं।

हाथी चले बजार
कुत्ता भूँके हजार