आईए मन की गति से उमड़त-घुमड़ते विचारों के दांव-पेंचों की इस नई दुनिया मे आपका स्वागत है-कृपया टिप्पणी करना ना भुलें-आपकी टिप्पणी से हमारा उत्साह बढता है

रविवार, 27 सितंबर 2015

डेंगू का प्रकोप

डेंगू का प्रकोप

बीमारी डेंगू बढ़ी, दिल्ली में ली जान।
बहस चैनलों पर चले, समाधान श्रीमान।।
समाधान श्रीमान, किसी ने नही सुझाना।
भिड़ना इनकी शान, महज आरोप लगाना।।
सचमुच समझे कौन, पीड़ितों की लाचारी।
दुखिया हो जा मौन, भगे न डेंगु बीमारी।।